गोटिया-चाल/gotiya-chaal
लोगों की राय

शब्द का अर्थ खोजें

शब्द का अर्थ

गोटिया-चाल  : स्त्री० [हि० गोटी+चाल] १. कंकड़,पत्थर इत्यादि का छोटा टुकड़ा जिससे लड़के कई तरह के खेल खेलते है। २. लकड़ी हाथीदाँत आदि के बने हुए वे विशिष्ट आकार-प्रकार के टुकड़े जिनसे चौपड़, शतरंज आदि खेलते हैं। नरद। मोहरा। ३. कार्य सिद्ध होने का उपयुक्त अवसर। उदाहरण–सतरू कोटि जो पाइअ गोटी।–जायसी। ४. कार्य सिद्ध करने के लिए चली जानेवाली चाल या की जानेवाली युक्ति। मुहावरा–गोटी जमना या बैठनाचली हुई चाल या की हुई युक्ति का ठीक बैठना और कार्य सिद्ध होने का निश्चय या संभावना होना। गोटी लाल होनायुक्ति ठीक बैठने के कारण कार्य पूरी तरह से सिद्ध होना या पूरा लाभ होना। ५. एक प्रकार का खेल जो ९, १५, १८ या इससे अधिक गोटियों से भूमि पर एक दूसरी को काटती हुई कई आड़ी और सीधी रेखाएँ बनाकर खेला जाता है। पद-गोटियाचाल (देखें)।
समानार्थी शब्द-  उपलब्ध नहीं
 
लौटें            मुख पृष्ठ